त्योहारों के मौके पर स्मृति ईरानी ने दिये 32 लाख लोगों को तोहफा

[ A+ ] /[ A- ]


नई दिल्ली। नोएडा में मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने ईपीएफओ द्वारा आयोजित एक समारोह में न्यूनतम पेंशन 1,000 रुपए प्रति माह देने का ऐलान किया है। इसके तहत लगभग 32 लाख लोगों के बैंक खाते में यह रकम ट्रांसफर करने की पहल कर दी गई है। एक अक्टूबर तक यह राशि उन सभी पेंशनभोगियों के खाते में पहुंच जाएगी।

RH-SmritiEPFOसरकार ने यह महत्वा कांक्षी योजना अगस्त 2014 में शुरू की थी। स्मृति ईरानी ने अधिकारियों से कहा कि इस योजना के उपभोक्ताओं को ऑनलाइन सूचना तो मिल ही रही है, लेकिन इसके लिए एक मोबाइल एप भी जारी किया जाए ताकि सभी को अपने पीएफ और पेंशन खातों के बारे में फौरन जानकारी मिल जाए।

मंत्री ने बताया कि देश में लाखों ऐसे लोग हैं जिन्हें अपने पीएफ अकाउंट का नंबर मालूम नहीं है या फिर इस बाबत कोई जानकारी नहीं है। उन्होंगने कहा कि इसके लिए देशभर में कैंप लगाए जाएंगे। लोग अपने इलाके के कैंप में जाकर पीएफ या पेंशन से संबंधित सूचना पाएंगे और उन्हें उनके पैसे दे दिए जाएंगे।

स्मृ ति ईरानी ने बताया कि देश में लगभग 25,000 करोड़ रुपये की राशि ऐसे ही पड़ी हुई है। उन्हें उनके मालिकों तक पहुंचाने की जिम्मेदारी ईपीएफओ की है। भारत सरकार के अतिरिक्त केंद्रीय प्रॉविडेंट फंड आयुक्त राजेश बंसल ने बताया कि पहली अक्टूबर 2014 से न्यूनतम पेंशन की राशि बढ़ाकर 1,000 रुपये प्रति माह कर दी गई है। इतना ही नहीं, बाल पेंशन की राशि अब 250 रुपये प्रति माह होगी, जबकि अनाथ पेंशन 750 रुपये प्रति माह मिलनी शुरू हो जाएगी। इसके लिए भारत सरकार ने 1250 करोड़ रुपये की राशि उपलब्ध कराई है।

उन्होंने बताया कि इस समय देश में 49 लाख पेंशनर हैं और 32 लाख पेंशनर ऐसे हैं, जिन्हें अब न्यूनतम 1,000 रुपये प्रति माह मिला करेंगे। सराकर ने ईपीएफ, ईपीएस और ईडीएलआई के तहत योगदान को बढ़ाकर 15,000 रुपये कर दिया है। पहले यह राशि 6,500 रुपये थी।

इसका मतलब यह है कि अब इस श्रेणी के लोगों की पेंशन बढ़कर 3,250 रुपये से 7,500 रुपये हो जाएगी। इस सीलिंग के बढ़ने से 50 लाख नए कर्मचारी सोशल सिक्योरिटी नेट में आ जाएंगे। ईपीएफ ने अपने सभी कामकाज ऑनलाइल कर दिए हैं, जिसका फायदा लाखों कर्मचारियों को मिल रहा है।

Subscribe to Republic Hind News


About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Copyright © 2012-18 Republic Hind News Network. All Rights Reserved.