Published On: Wed, Oct 8th, 2014

हरकतों पर लगाम लगाए पाक, अब बर्दास्त नहीं करेगा भारतः राजनाथ

[ A+ ] /[ A- ]


नई दिल्ली। भारत ने पाकिस्तान को एलओसी पर संघर्ष विराम के उल्लंघन के लिए चेतावनी देते हुए कहा है कि वह तत्काल अपनी हरकतों पर लगाम लगाए क्योंकि देश में राजनीतिक सत्ता अब बदल चुकी है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान को अब यह समझ लेना चाहिए कि भारत में स्थिति बदल चुकी है। इसलिए उसे समझना चाहिए कि मोदी सरकार ऐसी घटनाओं को हल्के में नहीं लेने वाली है।

RH-Pakगौरतलब है कि नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की फायरिंग से कम से कम तीन महिला समेत 5 लोग मारे गए और 30 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। इस बीच, रक्षा मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तनाव पैदा करने की बार-बार कोशिश कर रहा है। उसे समझना चाहिए कि वह ऐसा कर द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति को बाधित कर रहा है। उन्होंने कहा कि सकारात्मक माहौल बनाने की जिम्मेदारी पाकिस्तान की है जिसे निभाने में वह विफल रहा है।

सिंह ने कहा कि सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक डी. के. पाठक से बातचीत की है और उन्हें जम्मू क्षेत्र में सीमा पर अरनिया  क्षेत्र में मौके पर जाकर स्थिति का पता लगाने को कहा है। रक्षा मंत्री ने कहा कि लोग इस बात से आश्वस्त रहें कि हमारी सशस्त्र सेनाएं और अर्धसैनिक बल पूरी तरह से तैयार है और पाकिस्तान की ओर से प्रत्येक उकसावे का जवाब दे रहे हैं

अरनिया सेक्टर में 13 वर्ष की एक किशोरी समेत पांच लोगों की मौत की ख़बर आई है तथा 30 अन्य घायल हो गये है, जबकि कई मकान और बसें क्षतिग्रस्त हो गई है। पाकिस्तानी सेना ने राज्य के पुंछ जिले में भी नियंत्रण रेखा पर अग्रिम भारतीय चौकियों को निशाना बनाया है।

हमारे सुरक्षा बलों ने समान हथियारों से जवाबी कार्रवाई की। अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान रेंजरों ने बीएसएफ की चौकियों और  अरनिया सेक्टर में आधी रात के बाद करीब डेढ़ बजे से फायरिंग शुरू की। पाकिस्तान सेना ने संघर्ष विराम का गंभीर उल्लंघन करते हुए मोर्टार से गोले बरसाये और स्वचालित हथियारों से फायरिंग की।RH-Pak Attack

RH-Pak roofप्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि फायरिंग इतनी जबर्दस्त थी कि मोर्टार के गोले सीमा से करीब चार किलोमीटर दूर स्थित बस स्टैंड में भी गिरे। गोले से राज्य सड़क परिवहन निगम की कुछ बसें तथा निजी वाहन क्षतिग्रस्त हो गये। पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले के भिम्बर गली सेक्टर में अग्रिम भारतीय चौकियों और सीमावर्ती गांवों को निशाना बनाया।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 2003 के समझौते के बाद यह सबसे बड़ा सीजफायर उल्लंघन है। सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, सीमा पर स्थितियाँ अनुकूल नहीं है। चीजें जिस तरह से हो रही हैं निश्चय ही ये युद्ध जैसे हालात है। अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान ने 82 एमएम के मार्टार बरसाये हैं जो छोटे गोले के बराबर है। अधिकारी ने कहा कि भारतीय सेना ने भी  करारा जवाब दिया है।

RH-Pak Motorसेना की उत्तरी कमान के प्रवक्ता कर्नल एस डी गोस्वामी ने कहा कि समय और स्थिति के अनुसार हमारी सेना भी माकूल जवाब दे रही है। कर्नल गोस्वामी ने कहा कि जब तक सीमा पर आतंकवाद का ढांचा मौजूद रहेगा इस तरह के खतरे बने रहेंगे।

Subscribe to Republic Hind News


About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Copyright © 2012-18 Republic Hind News Network. All Rights Reserved.