Published On: Sun, May 17th, 2015

भारत में कदम रखने वाला है इस्लामिक परिधान बेचने वाली कम्पनी ‘ईस्ट एसेंस’

[ A+ ] /[ A- ]


नई दिल्ली। इस्लामिक कपड़ों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सबसे बड़ा निर्माता और विक्रेता ‘ईस्ट एसेंस’ कम्पनी अगले महीने से भारतीय बाजार में कदम रखने जा रही है। यह ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस स्नैपडील पर एक ऑनलाइन स्टोर खोलेगी। इसकी योजना अंतर्राष्ट्रीय बाजार के लिए भारत को उत्पादन का केन्द्र बनाने की है। यह आधुनिक इस्लामिक परिधान बनाने में मशहूर है, इसकी खासियत है कि यह कंपनी पहनावे की इस्लामिक शैली को मॉडर्न डिजाइन के साथ मिलाकर पेश करने करती है। ईस्ट एसेंस की तैयारी भारत को इस्लामिक फैशन का वैश्विक केन्द्र बनाने की है। कम्पनी का वेवसाईट है http://www.eastessence.com/

RH-East Essence in Indiaकैलिफोर्निया के सिलिकन वैली में 2007 में यह कंपनी शुरू हुई थी। इसके को-फाउंडर सनी किलाम ने बताया, ‘आइडिया यह है कि काले या सफेद रंग के परंपरागत पहनावे को कलरफुल फैशनेबल पोशाक में बदलने का है। इसके साथ मर्यादा और परंपरा का ध्यान भी रखा जाएगा।’ इस इस्लामिक अमेरिकी कंपनी का कारोबार 68 देशों में है और इसकी सालाना बिक्री 4 करोड़ डॉलर यानी लगभग 256 करोड़ रुपये की है।

स्नैपडील में फैशन डिविजन के वाइस प्रेजिडेंट अमित माहेश्वरी ने कहा, ‘उनकी टीम ने बेहतरी प्रॉडक्ट लाइंस के साथ सावधानी से अपना टारगेट मार्केट चुना है। हम उन्हें सपॉर्ट कर रहे हैं। इससे हमारे मौजूदा बेस में और कस्टमर्स जुड़ेंगे।’ गौरतलब है कि मुसलमानों की आबादी वाले देशों में भारत दूसरे नंबर पर है। यहां की कुल आबादी में लगभग 14.2 पर्सेंट मुसलमान हैं। इस तरह कंपनी के सामने करीब 17 करोड़ संभावित विशेष ग्राहक हैं।

‘ईस्ट एसेंस’ ने नोएडा में एक उत्पादन केन्द्र भी खोल ली है। यह यूनिट भारतीय मार्केट के लिए कपड़े तैयार करेगी और बाद में इसे वैश्विक जरूरत के लिए हब के रूप में तैयार करेगी। किलाम ने कहा, ‘हम जारा या फॉरएवर 21 की तरह फैशनेबल होना चाहते हैं, लेकिन अफोर्डेबल प्राइसिंग पर।’ उन्होंने कहा, ‘अमेरिका में ज्यादातर एथनिक मुस्लिम पॉप्युलेशन या तो टेलर-मेड कपड़े पहनती है या भारत, पाकिस्तान या बांग्लादेश जैसे अपने मुल्कों में जाने पर वहां से थोक में कपड़े खरीद कर लाती है। हमने शॉपिंग की इस आदत को ज्यादातर यूरोपियन मार्केट्स और अमेरिका में बदल दिया है। यही मॉडल हम इंडिया में भी दोहराना चाहते हैं।’

किलाम की खानदानी जड़ें कश्मीर से जुड़ी हुई हैं। उन्होंने कहा कि ‘ईस्ट एसेंस’ केवल महिलाओं के कपड़ों तक सीमित नहीं रहेगी। कंपनी की कुल बिक्री में पुरूष परिधान का हिस्सा लगभग 20 पर्सेंट है। इस्लामिक ‘ईस्ट एसेंस’ कंपनी भारत में ऐमजॉन और दूसरी ऑनलाइन मार्केटप्लेसेज के साथ भी पार्टनरशिप करना चाहती है। साथ ही, वह देश के डिपार्टमेंट स्टोर्स से भी अपने प्रॉडक्ट्स बेचने का इरादा रखती है।

Subscribe to Republic Hind News


About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Copyright © 2012-18 Republic Hind News Network. All Rights Reserved.