लगातार हुए कई बैंक घोटालों पर संसद की समिति ने उर्जित पटेल को किया तलब

[ A+ ] /[ A- ]


नई दिल्ली। बैंक घोटालों को लेकर जहां विपक्ष मोदी सरकार पर हमलावर है। वहीं, संसद की एक समिति ने भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल को समन किया है। उर्जित पटेल को 17 मई को समिति के सामने पेश होने के लिए कहा गया है। बताया जा रहा है कि यह समिति गवर्नर से हाल में सामने आए बैंकिंग घोटालों पर पूछताछ करेगी। जिसमें आईसीआईसीआई और एनपीए से जुड़े सवाल भी किए जाएंगे।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता एम वीरप्पा मोइली की अगुवाई वाली वित्त पर संसद की स्थायी समिति ने मंगलवार को वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार से बैंकिंग क्षेत्र पर कई सवाल पूछे। समिति की यह बैठक हाल में पंजाब नेशनल बैंक में सामने आए दो अरब डॉलर के घोटाले के मद्देनजर महत्वपूर्ण है। पिछले कुछ महीनों में कई और बैंकिंग घोटाले भी सामने आए हैं। निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक भी गलत वजहों से चर्चा में हैं।

सूत्रों ने बताया कि बीजेपी सांसद निशिकान्त दुबे और कुछ अन्य सदस्यों का सवाल था कि कॉर्पोरेट ऋण पुनर्गठन जैसे माध्यम होने के बावजूद क्या रिजर्व बैंक डूबे कर्ज पर अंकुश लगाने में विफल हो गया है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी समिति के सदस्य हैं। वह भी बैठक में मौजूद थे।

उर्जित पटेल ने हाल में कहा था कि रिजर्व बैंक के पास सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों से संबंधित मामलों को देखने के लिए पर्याप्त अधिकार नहीं हैं। एक अन्य सूत्र ने कहा, ‘हम यह जानना चाहते हैं कि रिजर्व बैंक गवर्नर को किस तरह के अधिकार चाहिए.’ सूत्र ने कहा कि नियमन महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं। यही वजह है कि गवर्नर को बुलाया गया है।

समिति ने सार्वजनिक और निजी बैंकों में सामने आए विभिन्न घोटालों पर विचार विमर्श किया। यह पूछे जाने पर कि क्या बैठक में पंजाब नेशनल बैंक और आईसीआईसीआई बैंक का भी मुद्दा उठा, सूत्र ने बताया कि आईसीआईसीआई बैंक सहित सभी वाणिज्यिक बैंकों पर चर्चा हुई।

Subscribe to Republic Hind News


About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Copyright © 2012-18 Republic Hind News Network. All Rights Reserved.